Breaking News
सोनू सूद ने ओडिशा के प्रवासी मजदूरों को विमान से घर पहुंचाया  |  पटना में आरजेडी ने की मार्च निकालने की कोशिश,सोशल डिस्टैन्सिंग की धज्जियां उड़ाई   |  स्कूलों में विद्यार्थियों के अनुसार होगी जेबीटी, टीजीटी शिक्षकों की तैनाती  |  रेल मंत्रालय ने बीमार, बुजुर्गों, बच्चों, गर्भवती महिलाओं से गैर जरूरी यात्रा से बचने की अपील  |  कोरोना से कैमरामैन के निधन के बाद दूरदर्शन कार्यालय सील  |  डीयू के नए सत्र के लिए आठ से 30 जून तक होंगे रजिस्ट्रेशन  |  टी-20 सीरीज से शुरू होगा भारत का ऑस्ट्रेलिया दौरा  |  सलमान खान ‘भाई भाई’ गाना की सफलता से खुश हैं  |  अफगानिस्तान में संघर्ष में 7 सैनिक,19 आतंकवादी मारे गए  |  जोया मोरानी ने दूसरी बार किया प्लाज्मा डोनेट  |  
महिला एवं बाल
Name 22/05/2020 : 17:03 PM
वट सावित्री व्रत कर महिलाओं ने की पति की लंबी उम्र की कामना
Total views
प्रयागराज,एजेंसी | प्रकृति एवं मानव के अटूट बंधन और पतिव्रता के संस्कारों के प्रतीक ‘‘वट साबित्री व्रत पूजन” को महिलाओं ने कोरोना वायरस को मात देकर गमलों में रखे वट वृक्ष के फेरे लगाकर पति की लम्बी आयु , शक्ति और खुशहाली के लिए प्रार्थना किया।

वैश्विक महामारी से बचाव के लिए घोषित लॉकडॉउन के कारण अधिकांश महिलाओं ने घरों में ही रहकर पूजन किया। कुछ महिलाओं ने गमलों में लगाए गये वट वृक्ष की परिक्रमा किया तो आपपास इस वृक्ष की परिक्रमा कर पूजना किया। इस दिन वट (बरगद) के पूजन का विशेष महत्व होता है। मान्यता है कि ब्रह्मा, विष्णु, महेश और सावित्री भी वट वृक्ष में ही निवास करते हैं। पति की लम्बी आयु , शक्ति और खुशहाली के लिए इस वृक्ष की पूजा की जाती है। राजरूपपुर निवासी समुनलता शर्मा ने बताया कि अपार्टमेंट के पीछे पार्क में एक छोटा वट वृक्ष है। महिलाओं ने उसी की परिक्रमा कर पूजा किया। उन्होने बताया कि पिछले 40 साल में पहली बार ऐसा हुआ है कि घरों, पार्क और गमलों में वट वृक्ष की लोगों को पूजा करनी पड़ी है। कोरोना के कारण ही लोगों को घरों में कैद रहना पड रहा है। श्रीमती शर्मा ने बताया कि कोरोना महामारी ने लोगों में दहशत पैदा कर दिया है। इसके घातक परिणाम भी देखने को मिल रहे हैं। कल तक प्रयागराज ग्रीन जोन में था,यह सुनकर बड़ी खुशी थी। लेकिन देखते ही देखते एक इंजिनियर समेत यहां तीन दु:खद मौत हो गयी। हाल ही में जन्मी नवजात शिशु को क्या पता जिंदगी क्या होती है, उसे भी कोरोना ने संक्रमित कर दिया। उन्होने बताया कि दवा से बेहतर बचाव है। परिवार की लंबी आयु, सुख-समृद्धि और अखंड सौभाग्य देने के साथ मानव जीवन के घातक संरचना बदलने में शातिर अदृश्य शत्रु से बचाव के लिए वट देवता से लोगों के जीवन की सुरक्षा के लिए प्रार्थना किया।



Advertisement









Copyright @ 2018 Rashtriya News Network